क्यों तैरती है लाश पानी मे जबकि जिन्दा इंसान डूब जाता है

क्या आप जानते है जीवित शरीर पानी में डूबता है लेकिन मृत शरीर पानी में तैरता है. कई बार आपने फिल्मो में ऐसा देखा होगा की जब कोई व्यक्ति पानी में डूब कर मर जाता है तो कुछ समय बाद उसकी लाश पानी की सतह पर आ जाती है. लेकिन कभी आपने सोचा है ऐसा क्यों होता है तो दोस्तों इस लेख मे हम इस बारे में जानेंगे.

 

क्यों तैरती है डेड बॉडी पानी मे जबकि जिन्दा इंसान डूब जाता है

इस प्रश्न को समझने के लिए हमें पहले ये समझना होगा की जिस चीज का घनत्व (density) ज्यादा होता है वह चीज पानी में आसानी से डूब जाती है. डूबते समय हमारे शरीर का घनत्व (density) पानी के घनत्व से ज्यादा होता है. जिसकी वजह से जीवित शरीर पानी में निचे की ओर डूबने लगते है. जब कोई व्यक्ति डूबता है तो उसके फेफड़ो में काफी पानी चला जाता है, जिसकी वजह से उसकी मौत हो जाती है.

शुरू में लाश पानी में निचे डूब रही होती है लेकिन जैसे ही शरीर सड़ना शुरू हो जाता है और उसमे से गैस निकलनीं शुरू हो जाती है तो लाश पानी में ऊपर की सतह की ओर आ जाती है ऐसा buoyancy के कारण होता है. जब कोई मरता है तो उसके शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली काम करना बंद कर देती है और शरीर का वातावरण भी स्थिर नहीं रहता, जिससे धीरे-धीरे शरीर के अपघटन (decomposition) की प्रक्रिया शरू हो जाती है, जिसमे शरीर के अन्दर और बाहर बैक्टीरिया शरीर के कोशिकाओ(cells) और उत्तको (tissues) को तोडना शुरू कर देते है, इस शरीर को putrefaction भी कहा जाता है, जो की भौतिक, रासायनिक और जैविक प्रक्रियाओ की श्रृंखला होती है. शरीर के मरने के साथ ही इसमें मौजूद बैक्टीरिया भी नष्ट नहीं हो जाते. ये बैक्टीरिया शरीर के विभिन्न हिस्सों में मौजूद शुगर, प्रोटीन का उपभोग करते है और गैसो जैसे (मीथेन, अमोनिया, कार्बन डाइऑक्साइड, हाइड्रोजन) को शरीर से बाहर निकालते है, जैसे जैसे शरीर सड़ना और सूजना शुरू हो जाता है, एक नयी गैस विकसित होती है, जिससे आखिरकार लाश ऊपर की ओर आती है. शरीर का वॉल्यूम बढ़ता है लेकिन बॉडी का वजन (weight) नहीं. जिससे लाश को तैरने में आसानी होती है.

मृत शरीर का घनत्व पानी से ज्यादा होने के कारण यह पानी में निचे डूब जाता है, जब पानी के नीचे हमारे मृत शरीर में गैसे बनती है जो की पानी से हल्की होती है, ये बॉडी के घनत्व (density) को कम कर देती है. कुछ समय बाद लाश का घनत्व पानी के घनत्व की तुलना में हल्का हो जाता है जिससे मृत शरीर पानी की सतह में तैरने लग जाता है. पानी में डूबने के बाद पानी की सतह तक आने में बॉडी को कुछ दो-तीन घंटे, दिन या हफ्ता भी लग सकता है.

इन्हें भी जाने

समुद्र का पानी नमकीन क्यों होता है

आकाश में इन्द्रधनुष कैसे बनता है

आसमान नीला क्यों दिखाई देता है

 


अगर आपको ये लेख अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिये. हमारा फेसबुक पेज like कीजिये. हमें subscribe कीजिये, अपने सुझाव हमें कमेंट्स के माध्यम से दीजिये. आपके कमेंट्स हमारे लिए उपयोगी सिद्ध होंगे. 

Leave a Reply