ऐसे करें गूगल का सही इस्तेमाल how to search on google effectively

गूगल हमारी जिंदगी से जुड़ चूका है. आज हम कह सकते है की एक आम इन्सान के लिए तकनीक का मतलब  गूगल है. गूगल कही न कही हमारी सभी समस्याओ को सुलझा रहा है. बस शर्त ये है की वो समस्या व्यक्तिगत न हो. व्यक्ति को कुछ समझ नही आता या कुछ जानकारी लेना चाहता है तो वो सबसे पहले Google  को याद करता है. कई बार उसे जवाब मिल जाता है और कई बार नही. गूगल या इंटरनेट पर कई बार जवाब न मिलने का मतलब होता है की हम सर्च करने में कोई गलती कर रहे है या फिर गूगल हमारी बातो को समझ नही पा रहा है और जो हम सर्च करना चाहते है उसका कुछ और ही परिणाम दे रहा है जो हमारे लिए व्यर्थ है. ऐसे में हम आपको इस लेख के द्वारा ये बताने की कोशिश कर रहे है की Google  की  technical terms क्या है और इसका कैसे और अधिक फायदा उठाया जा सकता है.

 

Tips To Use Google Search Efficiently in hindi

 

डायरेक्ट नाम टाइप करना— ये Google  का बहुत बेसिक काम है की हमे जिस चीज़ की भी जानकारी चाहिए होती है हम उसका नाम गूगल सर्च पर टाइप कर देते है और उससे संबंधिटत जितनी भी जानकारी होती है हमारे सामने आ जाती है.

 

कोर्ट्स का इस्तेमाल — कोर्ट्स का इस्तेमाल किसी भी एक वर्ड की जानकारी प्राप्त करने के लिए किया जाता है जैसे   “gazabbaat” हम गूगल पर लिखते है तो केवल इस वर्ड से रिलेटेड जाकारी हमे मिलती है.

 

@ का इस्तेमाल–  @ का इस्तेमाल हम इन्टरनेट पर  किसी शब्द की उपलब्धता को जानने के लिए करते है जैसे @gazabbaat लिखे तो इन्टरनेट पर जहा जहा भी इस शब्द का उपयोग किया गया होगा उसका सारा डाटा हमारे सामने आ जाएगा.

 

रिलेटेड वेबसाइट — अगर हमे एक जैसी और कई वेबसाइट के बारे में जानना है तो गूगल पर हम वेबसाइट के नाम के आगे related लिख कर सर्च करेंगे तो उस जैसी कई वेबसाइट हमारे सामने होगी.. जैसे Related: amazon.in.

 

(**) स्टार का इस्तेमाल— स्टार का उपयोग हम मिसिंग शब्द के लिए करते है यानि हम कुछ सर्च करना चाहते है और उसके हमे सिर्फ एक या दो शब्द याद है और बाकि शब्दों के जगह स्टार (*) लगा कर सर्च करेगे तो गूगल मिसिंग शब्द को पहचान लेगा.

 

नंबर का इस्तेमाल— किसी भी नंबर को जानने के लिए हम गूगल पर सर्च करना होगा (346872672 in English) और गूगल हमे इसे कैलकुलेट कर के बता देगा.

 

कहा से कहा तक – ये टर्म हम ज्यादातर ऑनलाइन शॉपिंग के लिए इस्तेमाल करते है जैसे अगर हमे 5000 से 10000 के बीच की रेंज में कोई मोबाइल खरीदना है  तो हम गूगल पर जा कर लिख सकते है (samsung mobile: 5000..10000) इसके लिए हम अपने प्राइज के बीच में दो डॉट का प्रयोग करते है..

 

डिफाइन और डेफिनिशन – किसी भी वर्ड की डेफिनिशन जानने के लिए उसके नाम के पहले define लिख कर सर्च करने से उस हमे सीधे तौर पर डेफिनिशन मिल जाती है.

 

फाइल फोर्मेट—कोई भी प्रकार की फाइल फोर्मेट प्राप्त करने के लिए फाइल के नाम के बाद pdf, ppt. dox आदि लिख कर सर्च करने से हमे वो फाइल प्राप्त हो जाती है जैसे technology:ppt, technology:pdf आदि.

 

सर्च इन पर्टिकुलर वेबसाइट— किसी भी साईट की एक पर्टिकुलर केटेगरी में जाने के लिए हम इस टर्म का यूज़ करते है जैसे cbse का रिजल्ट देखना है तो हम गूगल पर या लिख सकते है (result: cbse.nic.in) इससे use करने का यह फायदा है की हमे रिजल्ट से रिलेटेड और कोई फालतू साईट नही दिखाई देगी.

 

गूगल इमेज— कुछ भी सर्च करने के बाद हमे Google  इमेज पर क्लिक कर के उसकी इमेज भी देख लेनी चाहिए ताकि हमारी जानकारी और पक्की हो सके

 

गूगल ट्रांसलेशन—जो लोग अपनी मात्र भाषा के अवाला दूसरी भाषा सीख रहे है उनके लिए ये एक बहुत ही बहतरीन हथियार है  जिसे कोई सी भी भाषा सीखी जा सकती है

 

गूगल ड्राइव – इसेक बारे में कई लोग जानते है और इसका इस्तेमाल भी अच्छे से करते है ये एक तरह की ऑनलाइन पेन ड्राइव है जहा आप 15GB तक अपना डाटा स्टोर कर सकते हो और जो कभी खराब भी नही होगा…

 

तो दोस्तों इस टिप्स की मदद से आप google का सही से इस्तेमाल कर सकते है और बन सकते है स्मार्टर than स्मार्टर.

Leave a Reply