सस्ता और सुन्दर हिल स्टेशन – माउंट आबू Top Places to Visit in Mount Abu

अब तक राजस्थान की जैसी छवि हमारे दिमाग मे है ये उससे बिल्कुल अलग है या यूं कह सकते है कि राजस्थान का ये हिस्सा उस छवि से मेल नही खाता…Mount Abu वैसे तो राजस्थान में है लेकिन वो बड़े बड़े महल, हवेलिया, खान-पान, गर्मी, रेगिस्तान आदी वाले राजस्थान से बिल्कुल अलग…ठंडा, शांत, चिल-आउट और छुट्टियां बिताने वाला राजस्थान जिसमे गुजरात की भी झलक मिलती है…

राजस्थान के कोने में बना ये शहर गुजरात सीमा से लगता है यहाँ की आबादी करीब 22-23 हज़ार है लेकिन टूरिस्ट प्लेस होने की वजह से ये आबादी दुगनी हो जाती है. बड़े बड़े होटले, पहाड़ और राजस्थान की सबसे ऊँची छोटी यहाँ पर आकर्षण का केंद्र है.

तो आईये चलते है उन जगहों पर जो माउंट आबू को एक टूरिस्ट प्लेस बनाते है.

 

माउंट आबू की सैर – Best Places to Visit in Mount Abu

 

नक्की लेक

मीठे पानी की यह झील, राजस्थान की सबसे ऊँची झील हैं सर्दियों में अक्सर जम जाती है। कहा जाता है कि एक हिन्दू देवता ने अपने नाखूनों से खोदकर यह झील बनाई थी। इसीलिए इसे नक्की (नख या नाखून) नाम से जाना जाता है।  पहाड़ो के बीच बनी इस झील में लोग बोटिंग करते है और मौसम का मज़ा लेते है..

 

अचलगढ़

Mount Abu का अचलेश्वर महादेव मन्दिर दुनिया का ऐसा इकलौत मंदिर है जहां पर शिवजी के पैर के अंगूठे की पूजा होती है। यह शिव का दाहिना अंगूठा माना जाता है।  पारम्परिक मान्यता है की इसी अंगूठे ने पुरे माउंट आबू के पहाड़ को थाम रखा है जिस दिन अंगूठे का निशान गायब हो जाएगा, Mount Abu  का पहाड़ ख़त्म हो जाएगा।

 

अर्बुदादेवी मंदिर

यह मंदिर आबू पर्वत पर स्थित है जहाँ लगभग 450 सीडिया चढ़ कर जाना होता है इस मंदिर में देवी अम्बिका की प्राचीन मूर्ति है जो पर्वत पर बनी एक विशाल गुफा में बनी प्रतिमा है जिसे देखने पर ऐसा लगता है जैसे बिना किसी सहारे के हवा में खड़ी है भूमि को स्पर्श करे बिना अधर खड़ी दिखाई देने के कारण इन्हें अधर देवी भी कहा जाता है.

 

दिलवाड़ा जैन मंदिर

दिलवाड़ा जैन मंदिरों का निर्माण ग्यारहवीं और तेरहवीं शताब्दी के बीच हुआ था। यह शानदार मंदिर जैन धर्म के र्तीथकरों को समर्पित हैं। इसके परिसर में पांच मंदिर है जिनकी पांच अलग अलग कहानिया है  मंदिर संगमरमर के बने है उस समय बिना मशीन के की गई नक्काशी और हस्तकला इस मंदिर में अब भी जीवित है जो इस मंदिर को भव्य और सुंदर बनाते है…

 

हनीमून पॉइंट

हनीमून पॉइंट समुद्र सतह से 1220 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। इसे अनादरा पॉइंट भी कहा जाता है। यहाँ से सूर्यास्त का दृश्य देखा जा सकता है। इस स्थान को हनीमून पॉइंट भी कहते है क्योंकि कहा जाता है यहाँ पर एक चट्टान है जिसका आकार एक स्त्री और एक पुरुष के जैसा है।

 

गुरू शिखर

गुरू शिखर चोटी अरावली क्षेत्र की सबसे ऊँची चोटी है यह 1722 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। पर्यटक इस भव्य शानदार चोटी पर पैदल ही जाते हैं। इस पहाड़ की चोटी से अरावली क्षेत्र का पूरा दृश्य देख सकते हैं।

यहाँ गुरू दत्तात्रय मंदिर एक प्राचीन मंदिर है जो इस पर्वत की चोटी पर स्थित है। यह मंदिर भगवान दत्तात्रय को समर्पित है जो दिव्य त्रिमूर्ति भगवान ब्रह्मा, भगवान विष्णु और भगवान शिव के अवतार माने जाते हैं।

 

सनसेट पॉइंट

सनसेट पॉइंट Mount Abu  का शाम के पर्यटन का प्रमुख आकर्षण है जो नक्की झील के दक्षिण पश्चिम में स्थित है। यहाँ पहाड़ है जो देखने में सुंदर लगते हैं, मुख्य रूप से सूर्यास्त के समय। गर्मियों के मौसम में यह स्थान पर्यटन का एक लोकप्रिय आकर्षण रहता है क्योंकि बड़ी संख्या में यात्री इस स्थान के आरामदायक ठंडे परिवेश का आनंद उठाने के लिए यहाँ आते हैं।

यहाँ पहुचने के लिए एक किलोमीटर पहाड़ो के बीच में चलना पड़ता है जो अपने आप में एक सुखद अहसास कराता है..

 

तो ये था छोटा और बहुत ही शांत हिल-स्टेशन जहा लोग छुट्टिया बिताने आते है अपने शहर की गर्मी से निजात पाने आते है और सर्दियों में यहाँ की बर्फ देखने आते है हालाकि गुजरात बॉर्डर के पास में होने से यहाँ गुजरती लोग ज्यादा दिखाई देते है खैर अगर आप यहाँ जाए तो यहाँ की रबड़ी जरुर खाए….

 

तो दोस्तों आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हमें जरुर बताएं. साथ ही हमारे आने वाले आर्टिकल्स की update पाने के लिए हमें फ्री subscribe जरुर करे और हमारा फेसबुक पेज like करें.

 

यह भी जाने 

वीजा के बिना कर सकते है इन देशों की सैर Visa Free Countries for Indians in hindi

जानिये थाईलैंड के इस भयानक नरक मंदिर के बारे में

दिल्ली NCR के टॉप वाटर पार्क

दिल्ली के लोकप्रिय हैंगआउट प्लेस famous hangout places in delhi

Leave a Reply